बमफाड फिल्म में आदित्य रावल शालिनी पाण्डे के रोमांस में बमफाड जैसी कोई बात नहीं है [बमफाड फिल्म रिव्यू]

बमफाड फिल्म में आदित्य रावल शालिनी पाण्डे के रोमांस में बमफाड जैसी कोई बात नहीं है [बमफाड फिल्म रिव्यू]

समीक्षा 


BAMFAAD FILM परेश रावल के सुपुत्र आदित्य रावलका फिल्म बमफाड से डिजिटल डेब्यू हुआ है। जिसका निर्देशन राजन चंदेल ने किया है जिनकी ये पहली फिल्म है। और इस फिल्म से ही साऊथ फिल्म अर्जुन रेड्डी की एक्ट्रेस शालिनी पांडे  भी  बॉलीवुड में अपना पहला डेब्यू कर रही है । 

सभी का एक साथ डेब्यू और अनुराग कश्यप का बेन्नर फिल्म को देखने की उत्सुकता बड़ा देता है लेकिन  फिल्म देखने के बाद एक सवाल पनपता है आखिर क्यूँ बनायीं है  ये फिल्म ? फिल्म की कहानी इतनी घिसीपिटी है जिसे आप पहले से ही प्रीडिक्ट कर सकते है यहाँ तक की शालिनी और आदित्य के बीच का रोमांस भी स्क्रीन पे कोई कशिश पैदा नहीं कर पाया ।




Bamfaad Movie Review Duration & Cast and Crew


Release Date-10 April -2020

OTT – ZEE5
Film Duration: 1Hr 59 min

Genre- Drama

Cast (कास्ट): आदित्य रावल, शालिनी पांडे, जतिन सरना, विजय वर्मा
Producer (निर्माता) - अजय जी राय प्रदीप कुमार
Director (निर्देशक): राजन चंदेल
Writer (लेखक): रंजन चंदेल, हनजल्लाह शहीद
Music (संगीत): विशाल मिश्रा 
Cinematographer (छायाकार): पियूष पुटी
Rating (रेटिंग): 2 स्टार (में से)

बमफाड मूवी की कहानी (Bamfaad Movie Story)


नाटे उर्फ नासिर जमाल (आदित्य रावल) काफी गुस्सैल किस्म के व्यक्ति होते हैं। स्कूल में आतंक मचाने वाले। थोड़े अल्हड़ और थोड़े खुशमिजाज होते हैं। नाटेएक पॉलिटीशियन (शाहिद जमाल) के बेटे होते हैंजिन्हें नीलम (शालिनी पांडे) को एक नजर में देखते ही प्यार हो जाता है। 

नीलम अपने आप में एक ‘बमफाड़’ लड़की होती है। लेकिनउसका पास्ट एक लोकल गुंड़े जिगर फरीदी (विजय वर्मा) से जुड़ा होता है। इनका बोलबाला हर तरफ होता है। लोग जिगर से डरते हैं। खौफ खाते हैं।

नीलम कौन हैकहां से आई है और इलाहाबाद में यूं अकेली क्यों रहती हैनाटे नहीं जनते। वह अपने सच को नासिर से छुपाती हैं और जब उनका भेद खुलता है तो शुरू होती है एक ऐसी कहानीजिसे दर्शकों को अपने साथ बांधकर रखना था लेकिन अफसोस ऐसा हुआ नहीं।


बमफाड मूवी निर्देशक (Bamfaad Movie Director)


बमफाड़ की कहानी राजन चंदेल और हंजलाह शाहिद ने लिखी है हंजलाह शाहिद बमफाड से पहले मुक्केबाज़ की कहानी लिख चुके है जिसकी कहानी के साथ उसका निर्देशन भी काबिले तारीफ था जिसका निर्देशन अनुराग कश्यप ने किया था |

लेकिन इस बार हंजलाह शाहिद राजन चंदेल के साथ मिलकर बमफाड़ की कहानी लिखी है और निर्देशन की कमान राजन चंदेल के कंधो पे थी जिनकी ये डेब्यू फिल्म है और उनसे उम्मीद थी की वो कुछ नया फ्लेवर लेकर आयंगे लेकिन उनके निर्देशन में पैनापन नज़र नहीं आया और कही भी कोई सीन ऐसा नहीं था| 

जो ज़ेहन में रह जाये यहाँ तक निर्देशक राजन और हंजलाह शाहिदनासिर(आदित्य रावल ) और नीलम (शालिनी पाण्डेय ) के रोमांस को दर्शाने में स्ट्रगल करते नजर आते हैं। कई जगह बिना वजह के दर्शकों को भटकाने की कोशिश की गई है।


बमफाड मूवी में अभिनय विभाग (Bamfaad Movie Acting Department)


आदित्य रावल को पहली बार लीड रोल में देखा गया है और कहना सही होगा कि उनमें एक्टिंग की काबिलियत है। लेकिन इस फिल्म में उनका टैलेंट कुछ खास उभरकर सामने नहीं आया। नासिर के किरदार के साथ उन्होंने न्याय करने की कोशिश बहुत कीलेकिन फिर भी उसमें कुछ कमी रह गई। वहींजतिन सरना और विजय वर्मा की एक्टिंग काबिले-तारीफ दिखाई दी। दोनों ने अपने किरदार बखूबी निभाए और दर्शकों को इंप्रेस भी किया।


Bamfaad Movie  | Official Trailer | Adiyta Rawal | Shalini Pandey  | Vijay Varma | Trailer Download |