Search Bar

भंसाली से पूछताछ के बाद मुंबई पुलिस ने जब्त किया सुशांत के बिल्डिंग का सीसीटीवी फुटेज।

सुशांत सिंह राजपूत केस में हर दिन नया मोड आ रहा है। कल सोमवार के दिन संजय लीला भंसाली से 4 घन्टे की पूछताछ के बाद मुंबई पुलिस से सुशांत की बिल्डिंग के सी सी टी वी(cctv footage) फुटेज जब्त कर लिए है। मुंबई पुलिस (Mumbai police) के अनुसार,उन्हें सुशांत के घर पर सी सी टी वी नहीं लगा मिला। आइये जानते है क्या है पूरा मामला ?

भंसाली से पूछताछ के बाद मुंबई पुलिस ने जब्त किया सुशांत के बिल्डिंग का सीसीटीवी फुटेज।


सोमवार 6 जुलाई संजय लीला भंसाली से मुंबई पुलिस ने 2 राउंड में लगभग 4 घन्टे पूछताछ की जिसमे भंसाली ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया| भंसाली ने बतया की सुशांत सिंह राजपूत को उन्होंने कभी भी अपनी फिल्म से ड्राप नहीं किया बल्कि सुशांत ने उनसे फिल्म करने के लिए मना किया था | उनके अनुसार SSR यश बैनेर के तहत कॉन्ट्रैक्ट में बंधे हुए थे जिस कारण सुशांत ने मेरी फिल्म करने से मना कर दिया था |


भंसाली के ऊपर क्या आरोप लगे थे ?



आपको बता दे की भंसाली पे आरोप लगे थे की उन्होंने सुशांत को अपनी 2 बड़ी फिल्मो( राम लीला और बाजीराव मस्तानी ) से निकाल कर उनकी जगह वो रोल एक्टर रणवीर सिंह को दिया था | जिस कारण से सुशांत मानसिक तनाव में थे |



इन सभी आरोपों अपनी सफाई देते हुए उन्होंने सभी आरोपों को खारिज कर दिया | भंसाली के बयानों के अनुसार वो सुशांत के काम से काफी प्रभावित थे,और वो उनको अपनी फिल्म में लेना चहाते थे | लेकिन सुशांत के पास डेट्स की प्रोबलम और यश राज फिल्म से साथ अनुबंध के चलते वो उनके साथ काम नहीं कर सके | जिस वक़्त वो सुशांत सिंह राजपूत को उन्होंने काम का प्रस्ताव दिया था वो उस वक़्त यशराज फिल्म की “पानी” फिल्म की शूटिंग कर रहे थे जिस कारण वो सुशांत ने उनके प्रस्ताव को मना कर दिया था |

आखिर क्यूँ खंगाले जा रहे CCTV फुटेज ?


सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस की मिस्ट्री सुलझाने में मुंबई पुलिस लगातार पर्यास कर रही है लेकिन अभी तक इस बात का खुलासा नहीं कर पाई है की आखिर सुशांत किस वजह से मानसिक तनाव में थे? और क्यूँ उन्होंने इतना बड़ा कदम उठाया ? ऐसे बहुत से सवाल है जिनका जवाब उन्हें ढूंढना है | SSR केस की  तफ्तीश में मुंबई पुलिस अभी तक बॉलीवुड जगत के लगभग 30 लोगो से पूछताछ कर चुकी है | फिर भी अभी तक कोई ठोस वजह सामने निकल कर नहीं आ है ? इसलिए मुंबई पुलिस अब हर पहलुओं को खंगालने में जुटी हुई है |

जिसके चलते मंगलवार 7 जुलाई को सुशांत की बिल्डिंग (जहाँ वो किराये पे रहते थे ) के सभी CCTV फुटेज को अपने कब्ज़े में ले लिया है | मुंबई पुलिस ने ये भी बताया की सुशांत के घर पर किसी भी तरह का CCTV नहीं लगा हुआ था |

मुंबई पुलिस कोई भी शक-शुबा नहीं छोड़ना चहाती| कही कोई ऐसा सुराग हो जो उनकी इन्वेस्टीगेशन में छूट ना गया हो ? इसलिए cctv फुटेज को मुंबई पुलिस ने अपने कब्ज़े में लिया है |

कुछ सवाल है जो सभी के जहन में ज़रूर आते होंगे? जाँच प्रक्रिया में इतनी देरी क्यूँ हो रही है? CCTV फुटेज को 14 जून को ही क्यूँ कब्ज़े में नहीं लिया गया ?
अभी तक किसी के साथ कड़ाई से पूछताछ क्यूँ नहीं की ? हरे रंग के फंदे को देरी से क्यूँ फोरेंसिक के लिए भेजा गया ?( टेक्सटाइल स्ट्रेंथ टेकनीक  से जांच होगी फंदे की जिसे सुशांत ने सुसाइड किया था )

खैर देखते है की कब तक मुंबई पुलिस इस पर अपनी फाइनल रिपोर्ट देती है| और कब तक ये केस सीबीआई को ट्रांसफर होता है ?

यह भी पढ़े :-सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस की CBI जांच हो सकती है?विसरा रिपोर्ट भी आई




टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां