साइकोपैथ थीम पर हिंसा की नई तस्वीर पेश करती है कुणाल खेमू की अभय 2 वेब सीरीज

Abhay-2 Web Series ZEE5 पर कुणाल खेमू (Kunal Khemu) की सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज अभय का सेकंड सीजन अभय 2 (Abhay 2) रिलीज हो गया है| इस बार साइकोपैथ थीम पर हिंसा की नई तस्वीर में पेश करती है कुणाल खेमू की अभय 2 वेब सीरीज | आइये जानते है क्या ख़ास है इस वेब सीरीज में जिसके लिए आपको ये देखनी चाहिए की नहीं ?

साइकोपैथ थीम पर हिंसा की नई तस्वीर में पेश करती है कुणाल खेमू की अभय 2 वेब सीरीज

समीक्षा 


Abhay-2 Web Series Review ZEE5 पर कुणाल खेमू (Kunal Khemu) की सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज अभय का सेकंड सीजन अभय 2 (Abhay 2) रिलीज हो गया है| इस बार कुनाल खेमू के साथ चंकी पांडे (Chunky Pandey) और राम कपूर (Ram Kapoor) भी साइको किलर के नए रूप में नज़र आने वाले है | जिनका क्राइम का अंदाज़ क्रूर के साथ काफी भयावय है | डायरेक्टर केन घोष ने अभय 2 से क्राइम और हिंसा को नई तस्वीर के रूप में पेश किया है |

ZEE5 ओटीटी प्लैटफॉर्म पर कुणाल खेमू की सफल डार्क सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज अभय (Abhay) का सेकंड अभय 2 (Abhay 2) रिलीज हो गया है| इस बार निर्देशक केन घोष अभय 2 को पहले सीजन से भी डार्क शेड रखा है | जिसमे साइको किलर का बेहद खौफनाक रूप देखने को मिलेगा| आपको कही कही हॉलिवुड फिल्मों के ट्रीट्मन्ट की झलक भी देखने को भी मिलेगी |

इस बार एसटीएफ ऑफिसर अभय प्रताप सिंह(कुणाल खेमू) साइको किलर के हिंसा,दरिंदगी, के केस सुलझाते हुए नजर आएंगे | जिसका पाल एक से एक खौफनाक साइको से होने वाला है जिसमे राम कपूर, चंकी पांडे, आशा नेगी, बिदिता बेग, राधव जुयल, शान कक्कर और निधि सिंह जैसे कलाकारों को आप पहली बार खतरनाक रूप मे देखेंगे| 

अभय 2 (Abhay 2) की कहानी इस बार पिछले सीजन से भी ज्यादा खतरनाक है जिसे अभिनय,सिनेमेटोग्राफी और बैक ग्राउंड म्यूजिक का पूरा साथ मिल जिस कारण आप सीरीज से बंधे रहेंगे| यहाँ पर स्क्रीनप्ले की तारीफ करनी होगी जो कहानी मे इन्टरेस्ट बनाए रखने मे कामयाब होता है |

Zee5 वेब सीरीज अभय के पहले सीजन मे जहां एसटीएफ अधिकारी अभय प्रताप सिंह किडनैपिंग और मर्डर जैसे मामले सुलझाते हुए दिखे तो वही इस बार अभय के सामने बड़ी चुनौती है साइको किलर को पकड़ने की |

जैसा की पिछले सीजन मे हमने देखा है की अभय प्रताप सिंह अपनी प्रफेशनल लाइफ में इतना इनवॉल्व हो जाता है कि उसे अपनी निजी जिंदगी की कोई फिक्र भी नहीं रहती और फिर अभय के साथ कुछ ऐसा होता है कि उसका सबकुछ बर्बाद हो जाता है| यही वजह से अभय का सीजन 2 के लिए दर्शकों मे काफी उत्सुकता थी | हालांकि कोरोना काल के चलते अभी 4 सितंबर तक 5 एपिसोड ही रिलीज किए गए है बाकी की अभी शूटिंग और एडिटिंग का काम बाकी है |

अभय 2 की कहानी


एपिसोड 1 ब्रैन सूप (Brain Soup)

अभय 2 के पाँच ऐपसोडस ही रिलीज किए गए है सभी एपीसोडस एक कहानी से इन्टर्लिंगक रखे गए है जैसे की पहली कहानी का नाम है ब्रैन सूप (Brain Soup) इस एपिसोड में हर्ष (चंकी पांडे) नाम का एक अधेड़ उम्र का साइको किलर दिखाया गया है | जो एक किताबों आउए ज़ीराक्स की दुकान चलता है | उसके दुकान पे जो भी 10वीं और 12वीं का होनार स्टूडेंट आता है वो उसका किड़नेप कर लेता है|जिसके बाद वो उनकी हत्या करके उनके ब्रैन का सूप बनाकर पीता है| उसका मानना है की इससे उसका दिमाग तेज हो जाएगा| बीते 2 साल मे कई बच्चे गायब होते हैं एस् टी एफ इस केस को अभय प्रताप को देती है | अब अभी हर्ष को कैसे पकड़ता है ये देखना काफी दिलचस्प है |


एपिसोड 2 One Legged Skeleton

तो वही दूसरी कहानी का नाम है One Legged Skeleton जिसमे अभय एक वेश्या सलोनी (बिदिता बेग) पुरुषों की बेरहमी से हत्या करती है और इससे उसे सुख मिलता है| लेकिन कहानी मे पेच तब फँसता है जब सलोनी (बिदिता बेग) एक पुलिस इंस्पेक्टर की हत्या कर देती है और एस टी एफ अधिकारी अभय प्रताप ढूंढते हुए सलोनी तक पहुंचता है | लेकिन चालक सलोनी बच जाती है तो फिर  अभय सलोनी को पकड़ने में कामयाब होगा की नहीं इसे देखने के लिए आपको एपिसोड देखना ही होगा|


एपिसोड 3 The Game Begins

तीसरी कहानी ही से राम कपूर की एंट्री होती है जो अभय को ऐसे खेल मे फंसा देता है जिससे निकलने मे अभय के भी पसीने छूट जाते है| इस कहानी का नाम है The Game Begins सही मायेन मे अभय 2 की वास्तविक कहानी यही से शुरू होती है| इसमे राम कपूर दिल्ली-लखनऊ हाइवे पर बच्चों से भरी एक बस को अगवा करता है और फिर लखनऊ के एक नामी जर्नलिस्ट की हत्या करता है|उसके  बाद में वह जर्नलिस्ट का सिर लेकर फाइव स्टार होटल जाता है| जहां पुलिस उसे गिरफ्तार कर लेती है जिसके बाद वो कहता है की मैं जो भी कुछ कहूँगा अभय प्रताप सिंह से ही कहूँगा | इसके बाद बाद अभय उससे मिलता है तो अभय उसके बनाए खेल मे फंस जाता है वो कहता है अगर तुमने गेम को सॉल्व कर लिया तभी तुमको अगवा बच्चों का पता मिल पाएगा |


एपिसोड 4 The 12-hour challenge


चौथे एपिसोड The 12-hour challenge मे विलेन(राम कपूर) अभय प्रताप सिंह (कुणाल खेमू) को 12 घंटे का चलेंज देता और कहता की अगर उसने ये केस सॉल्व कर दिया तो वो एक बच्चे को छोड़ देगा| विलेन एक ऐसा केस सौंपता है जिसमे कई लड़कियों की गायब होने की खबर है लेकिन आज तक कोई भी लड़किया नहीं मिली| सभी केस मे घरेलू हिंसा भी एनवॉल्व है| लेकिन सारे केस की जांच पुलिस इन्स्पेक्टर किरण डागर कर रहा है| लेकिन जब अभय सभी गायब के सूत्र को जोड़ते हुए किरण डागर तक पहुंचता है| तब जो खुलासा सामने आता है आपकी भी रूह हिल जाएगी |


एपिसोड 5 Misplaced Retribution

इस एपिसोड मे अभय को विलेन कहता है की अगर उसने ये केस सॉल्व किया तो वो उसे 2 बच्चे देगा | लेकिन इस बार 6 घंटे है उसके पास | इस एपिसोड मे अभय प्रताप सिंह का सामना एक मल्टीपल डिसऑर्डर पेशेंट सुप्रिया पाठक से होता है| इस केस को अभय कैसे सॉल्व करेगा क्या वो सभी अगवा बच्चों को विलेन से छुड़वा पाएगा? क्या वो विलेन के गेम मे फँसकर रह जाएगा ?


निर्देशक केन घोष ने अभय 2 की कहानी ऐसे मोड़ पर छोड़ा है जहां दर्शक ये  जानने के लिए परेशान हो जाते है कि आखिरकार अब होगा क्या?