दगा दे गए मिर्जापुर के कालीन भैया और गुड्डू पंडित,पहले सीजन के आगे कमतर है Mirzapur 2

गुड्डू पंडित के प्रतिशोध की आग और कालीन भईया के मिर्जापुर की गद्दी की पकड़ जिसे 2 साल के लंबे अंतराल के बाद भी कोई नहीं भूला और यही वजह थी लोगों को बड़ी बेसब्री से इंतज़ार था मिर्जापुर 2 का,लेकिन क्या ये दर्शकों को पहले सीजन वाला रोमांच दे पाएगी चलिए जानते है | 


2 साल पहले यानि 2018 मे मिर्जापुर के पहले भाग मे मुन्ना त्रिपाठी ने एक शादी समारोह मे गुड्डू पंडित के भाई बबलू पंडित को बड़ी बेरहमी से मारा तो लगा की मिर्जापुर के अगले सीजन मे घायल गुड्डू पंडित अपने भाई की मौत का बदला अखंडा नन्द त्रिपाठी उर्फ कालीन भईया और उसके बेलगाम लड़के मुन्ना त्रिपाठी से मिर्जापुर की गद्दी हासिल करके लेगा| यही वजह थी की मिर्जापुर के दूसरे सीजन का लोगों को बड़ी बेसब्री से इंतज़ार था लेकिन मिर्जापुर 2 दर्शकों की उम्मीद पे खरी नहीं उतरती है |

मिर्जापुर 2,10 एपीसोडस की लंबी वेब सीरीज मे मार धाड़, कॉन्सपिरेसी, गोली कट्टा बारूद,लव सेक्स और धोखा तो मौजूद है लेकिन जो होना चाहिए था वो दूर दूर तक नदारत है यानि बदला or रीवेन्ज (Revenge)| जिसे गुड्डू पंडित को लेना था वो भी अखंड उर्फ कालीन भईया से | लेकिन इसके उलट गुड्डू पंडित भाई बबलू पंडित की माशूका गोलू के साथ अफ़ीम बेचने लगे |

पूरी सीरीज मे बस यही इंतज़ार रहता है कि गुड्डू कभी तो बदला लेगा लेकिन राइटर ने उसके किरदार को अफ़ीम के धंधे मे ऐसे उलझाया की वो अंत तक निकल ही नहीं पाया |